Headlines News :
Home » » असली "लाल किताब के फरमान 1952" हिंदी में : प्रथम-पेज़-2

असली "लाल किताब के फरमान 1952" हिंदी में : प्रथम-पेज़-2

Written By Vaneet Nagpal on Monday, 21 January 2013   3 comments

असली "लाल किताब के फरमान 1952" हिंदी में : प्रथम-पेज़-2

हाँ इतना जरूर है यह मजमून बाज़ औकात अपनी बरकत से किसी प्राणी पर हमला करने बाले ज़ालिम शेर के साहमने के ऐसी गैबी दीवार खड़ी कर देगा जिससे कि वो शेर उसका कुछ ना बिगाड़ सके |फिर भी शेर और ऊँची छलांग से हमला करे तो ये मज़मून गैबी दीवार को और भी ऊँची करता जाता है मगर हमला करने वाले शेर पर न गोली चलाएगा और न ही उसकी टांग पकड़ेगा मगर रूहानी मदद से वो शेर थक हार कर खुद ब खुद ही चला जाये या हमले का इरादा ही छोड़ देगा |जिससे दोनों अलहदा-अलहदा हो जाने पर वो प्राणी सुख का सांस लेने लगेगा |

२. मज़मून की बुनियाद पर "लाल किताब" की जिल्द सुर्ख खूनी लाल रंग की जो चमकीला न हो मुबारिक होगी | इस रंग के इलावा बाकि सब रंग मनहूस असर के होंगे | 3. इस किताब में सामुद्रिक विद्या की क ख (वर्णमाला) मुकम्मल तौर पर देने की कोशिश की गई है मगर चूँकि एक फरमान दूसरे से बिलकुल जुदा ही होता चला गया है इसलिए तमाम की तमाम किताब शुरू से आखिर तक कई दफा बार-बार बतौर नवल बेशक बगैर समझे ही पढते जाना स्वयं ही मज़मून का भेद बना देगा |
4. किसी बात को आजमाने से पहले उसे अपनी जाती फैसला से गलत समझ कर वहां खड़ा कर लेना मज़मून की वाकिफियत के लिए मददगार ना होगा |
5. किताब के बगैर फर्जी मन मानी या मनघडंत बात वहां पैदा कर देगी और वहां का इलाज शायद ही कहीं मिलता होगा |
6. कुंडली का बनाना और उसकी दुरुस्ती को जांचना तमाम सम्बंधित विद्या के परिचय के बाद शुरू करें और दरम्यानी वक्त में मौजूदा ज्योतिष की बनाई हुई कुंडली से ही तजुर्बा हासिल करें मगर ख्याल रहे कि अपने ही हाथ का खाना या अपनी ही जन्म कुंडली, मजमून सीखने के रास्ते में सबसे बड़ी रूकावट होगी |
7. मज़मून की गलती बताने वाला इस इल्म को बढ़ाने के लिए सबसे मददगार दोस्त होगा क्योंकि असल दोस्त वो है जो नुक्स बतलाएं |
8. बात की असलियत को पाने के लिए किसी दूसरे इल्म या आलिम की बदखोई से परहेज़ करें |

Share this post :

+ comments + 3 comments

Wednesday, June 29, 2016 1:10:00 pm

Thank You for sharing the article with us. please keep on updating more useful informations...
Informatica Training in Chennai

Wednesday, March 15, 2017 10:25:00 am

Thank you for taking the time to provide us with your valuable information. We strive to provide our candidates with excellent care and we take your comments to heart.As always, we appreciate your confidence and trust in us
Digital Marketing Company in India

Wednesday, July 12, 2017 12:41:00 pm

I’m sincerely suggesting your blog to all my friends… I’ve changed myself in many thing after reading your blog… Thanks and keep going.
Sharepoint Training in Chennai
Web Designing Training in Chennai

Post a Comment

 
Support : Tips Hindi Mein | Vaneet Nagpal
Copyright © 2011. Hindi Tips - All Rights Reserved
Template Created by Vaneet Nagpal Published by Tips Hindi Mein
Proudly powered by Blogger